मस्त विचार 2358

जो मिला उसमें ही खुश रहता हूँ..

मेरी उंगलियां ही मुझे सिखाती है दुनियाँ में बराबर कोई नहीं है..

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *