सुविचार 2493

जिसको पता है – मैं क्या काम कर रहा हूँ,

मुझे क्या काम करना चाहिए,

मुझे यह काम कैसे करना है,

तो कौन ऐसे व्यक्ति को हिला पायेगा.

मस्त विचार 2366

जुबान बोले न भी बोले, तो मुश्किल नहीं,

मुश्किलें तब होती हैं, जब खामोशी, भी बोलना छोड़ दे……

मस्त विचार 2365

सब्र का घूंट दूसरों को पिलाना कितना आसान लगता है,

लेकिन जब खुद को पीना पड़ता है तब कतरा कतरा जहर लगता है.