सुविचार 2670

यदि आप स्वयं से संतुष्ट नहीं हैं,

तो अपने जीवन से कभी भी संतुष्ट नहीं हो सकते.

सुविचार 2669

परिस्थितियों की अनुकूलता और प्रतिकूलता हमारी मनोस्थितियों पर निर्भर करती है.

मस्त विचार 2543

यहाँ कौन रह सका अकेला, अकेले रहने और जीने की बात बेमानी.

जो जगत के संग नाच उठे,,,,,वो ही है विरला ज्ञानी.

सुविचार 2668

अक्सर लोग उसी इंसान का बुरा करने का सोचते हैं,

जो इंसान सबको खुश रखना चाहता है.

सुविचार 2667

समझदार इंसान न तो किसी की बुराई सुनता है और न ही किसी की बुराई करता है.