मस्त विचार 2487

तुम आये थे अपने को बदलने को

और यहां तुम फिक्र में पड़ जाते हो किसी दूसरे को बदलने की !

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *