मस्त विचार 2530

यह इस जमीन की फितरत है, हर चीज सोक लेती है,

वरना इन आँखों से गिरने वाले आंसुओं का भी,

एक अलग ही समुन्दर होता.

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *