मस्त विचार 2669

बसा लेना किसी को निगाह-ए-दिल में आसान है साहब

थमते नहीं आँसू जब वो निगाहों को छोड़ और दिल को तोड़ जाते हैं.

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *