सुविचार 2667

समझदार इंसान न तो किसी की बुराई सुनता है और न ही किसी की बुराई करता है.

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *