सुविचार 2793

इत्र, मित्र, चित्र और चरित्र किसी की पहचान के मोहताज नहीं.

ये चारों अपना परिचय स्वयं देते हैं.

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *