सुविचार 2402

बुरा वक्त तो गुजर ही जाता है,

पर अच्छे अच्छे लोगों की असलियत दिखा जाता है.

सुविचार 2400

“जैसे हो वैसे ही रहो” क्योंकि ओरीजनल की कीमत डुप्लीकेट से ज्यादा होती है.

सुविचार 2399

झरनों से कतई मधुर संगीत नहीं सुनाई देता,

अगर राह उनकी पत्थरों से भरी न होती.

सुविचार 2398

“स्टेच्यू- स्टेच्यू” खेलते खेलते पता ही नहीं चला कि लोग कब पत्थर के हो गए.

सुविचार 2397

अगर खुश रहकर जीना है तो अकेले जीना,

आखिरी वक्त तक कोई भी साथ देने वाला कोई नहीं होता.