सुविचार 3037

जीना हो तो ज्योति बन जीना, जीना हो तो मोती बन जीना,

बहुत बड़ा अभिशाप जगत में, अंधकार का जीवन जीना.

सुविचार 3036

जीवन कठिन तब लगता है जब हम स्वयं को बदलने के बजाए

परिस्थितियों को बदलने का प्रयास करते हैं.

सुविचार 3035

हम दुनिया को बदलने नहीं जा रहे,

लेकिन अगर हम बदलेंगे तो दुनिया भी बदल जाएगी.

सुविचार 3034

अपनापन, परवाह, आदर और थोड़ा सा समय, यह वो दौलत है

जो हमारे अपने हमसे चाहते हैं.

सुविचार 3033

आध्यात्मिकता की खोज में जुटे व्यक्ति के लिए ज़रूरी चीजों में से एक है – समभाव.

इसका अर्थ है सभी इन्द्रियों व प्रणालियों में संतुलन.

सुविचार 3032

एक बेहतर भविष्य की कल्पना करें. सोचें कि यह संसार आनंदमय बनता जा रहा है.

धीरे- धीरे ऐसा होता जायेगा.

error: Content is protected